एक चीनी ने 1200 गुजरातियों से ठगे 1400 करोड़ रुपये

0
660

नेशनल डेस्क: लालच बुरी बला है, यह पता होने के बावजूद लोग इसके चक्कर में आकर बर्बाद हो जाते हैं। यह कहावत एक बार फिर सच साबित हुई है, जब एक चीनी नागरिक (Chinese man dupes)) ने भारतीय लोगों के खातों से करीब 1400 करोड़ रुपये निकालकर भारत से भाग गया। इस बेहद शातिर चीनी नागरिक ने गुजरात के कई लोगों को एक बेटिंग ऐप (Danidata App) के माध्यम से लाखों रुपये कमाने की ख्वाहिश दिखाई। उसने इस धोखाधड़ी योजना को दो साल तक चलाया और लोगों के खातों से पैसे चुराए।

एक रिपोर्ट के अनुसार, चीनी शख्स ने गुजरात के पाटन और बनासकांठा इलाकों में 15 से 75 साल की उम्र के लोगों को धोखाधड़ी के जरिए ठगा। उन्होंने दानीदाता ऐप का इस्तेमाल किया और इस ठगी का काम किया। चीन के शेन्जेन क्षेत्र के वू उयानबे नामक व्यक्ति ने गुजरात के कई लोगों को धोखा देकर ठगाया। पुलिस ने इस मामले की जांच तब शुरू की थी, जब उन्हें इस धोखाधड़ी योजना के बारे में जून 2022 में जानकारी मिली थी।

पुलिस की जांच से पता चला कि चीनी नागरिक 2020 और 2022 के बीच भारत में रहा था और उसने गुजरात के पाटन और बनासकांठा में अपनी योजना को अंजाम दिया।उसने लोगों को बेटिंग करने के लिए ललचाया और उन्हें अच्छा रिटर्न देने का वादा किया। पुलिस के मुताबिक, चीनी ने ऐप के माध्यम से रोज़ाना लगभग 200 करोड़ रुपये चुराए। इस विशेष धोखाधड़ी योजना के परिणामस्वरूप अब तक 1200 लोगों से 1400 करोड़ रुपये की ठगी सामने आई है।

हवाला नेटवर्क का उपयोग करके पैसे जुटाने में चीनी नागरिक की सहायता करने वाले नौ भारतीयों को पुलिस द्वारा गिरफ्तार किया गया है। अगस्त 2022 में गुजरात पुलिस ने जब कार्रवाई की शुरुआत की तब तक चीनी ठग गायब हो चुका था। पुलिस के पास उसके खिलाफ प्रमाणिक सबूतों की कमी है, जिसके कारण अभी तक उसके प्रत्यर्पण की प्रक्रिया शुरू नहीं की गई है।

(आप हमें फ़ेसबुकइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here