लालू यादव के मंत्री चंद्रशेखर ने रामायण की ‘पोटैशियम साइनाइड’ से तुलना

0
47

बिहार के शिक्षा मंत्री प्रोफेसर चंद्रशेखर ने रामचरितमानस को जहर माना है। उन्होंने रामचरितमानस के बारे में इस टिप्पणी को हिंदी दिवस के अवसर पर एक कार्यक्रम के दौरान की है।

प्रो. चंद्रशेखर ने कहा कि जब तक रामचरितमानस में पोटैशियम साइनाइड होगा, तब तक वे इसका विरोध करते रहेंगे। शिक्षा मंत्री यहीं नहीं रुके, उन्होंने रामचरितमानस के अरण्य कांड की चौपाई ‘पूजहि विप्र सकल गुण हीना, शुद्र न पूजहु वेद प्रवीणा’ को भी उठाया और पूछा कि इसका मतलब क्या है? मंत्री ने कहा कि क्या गुणहीन विप्र पूजनीय है? और गुणयुक्त शूद्र वेद का ज्ञाता होने पर भी पूजनीय नहीं है।

शिक्षा मंत्री प्रोफेसर चंद्रशेखर ने अपने बयान के दौरान यह भी कहा कि ‘मैंने रामचरितमानस को पोटैशियम साइनाइड कहा है। इसके लिए मेरी जुबान काटने के लिए 10 करोड़ रुपये का इनाम भी रख दिया जाएगा। अगर जुबान करोड़ की होगी तो गला कितने का होगा।’

उन्होंने अपने सवाल के साथ इस बात को भी उठाया कि अगर आपको 55 प्रकार के पकवान परोसे जाएं और उनमें थोड़ा सा पोटैशियम साइनाइड मिला दिया जाए, तो क्या आप उन्हें खाएंगे?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here