पोंग और भाखड़ा बांधों के गेट खोलने से 8 जिलों में बाढ़ जैसे हालात

0
754

नेशनल डेस्क: पंजाब (Punjab floods) ) के 8 जिलों में पोंग (Pong dam) और भाखड़ा बांध (Bhakhra dam) से पानी के छोड़े जाने के कारण भयंकर बाढ़ जैसी स्थिति उत्पन्न हो गई है। इन जिलों में होशियारपुर, रोपड़, गुरदासपुर, कपूरथला, फिरोजपुर, फाजिल्का, अमृतसर और तरनतारन शामिल हैं। होशियारपुर जिले के मुकेरियां और कपूरथला जिले के सुल्तानपुर लोधी सहित एक दर्जन गांवों से 2,700 से अधिक लोगों को सफलतापूर्वक बचाया गया है। कुछ लोगों को एयरलिफ्ट भी किया गया है। विभागीय अधिकारियों के अनुसार, राज्य सरकार स्थिति पर नजर रख रही है और सभी आवश्यक उपायों को लागू कर रही है।

बाढ़ के प्रभावित क्षेत्रों में होशियारपुर के उपायुक्त (डीसी) कोमल मित्तल और आपदा प्रबंधन मंत्री ब्रह्म शंकर जिम्पा ने बचाव कार्यों की निगरानी कर रहे हैं। मित्तल ने गांव के निवासियों को प्रशासन द्वारा स्थापित राहत शिविरों में स्थानांतरित होने की अपील की है। उन्होंने ड्रेनेज विभाग के अधिकारियों से तटबंधों की निगरानी करने और किसी भी कटाव को तुरंत ठीक करने के निर्देश दिए हैं।

आपदा प्रबंधन मंत्री ब्रह्म शंकर जिम्पा ने कहा कि पंजाब सरकार उन ग्रामीणों को सुरक्षित बाहर निकालने की प्राथमिकता देने में जुटी है जो बाढ़ की वजह से ज़्यादा प्रभावित हुए हैं । उन्होंने नदी किनारे के गांवों के निवासियों से सुरक्षित स्थानों पर जाने की अपील की है और उन्हें राहत शिविरों के सुविधाएं प्रदान करने की जिम्मेदारी लेने का आश्वासन दिया है।

पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने बताया कि राज्य सरकार और भाखड़ा ब्यास मैनेजमेंट बोर्ड (बीबीएमबी) सहित संबंधित अधिकारियों के साथ सहयोग कर बाढ़ प्रभावित इलाकों को मदद पहुंचाने के उपायों पर काम कर रही है। उन्होंने कहा कि पौंग डैम और रणजीत सागर डैम पर स्थिति काबू में है और लोगों की सुरक्षा राज्य सरकार की प्राथमिकता है। उन्होंने सभी को सतर्क रहने और सरकार की दिशा-निर्देशों का पालन करने की आग्रह किया है ताकि कोई भी हादसा और नुकसान न हो।

(आप हमें फ़ेसबुकइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here