Luna 25 Russia: रूस का मून मिशन खतरे में, अंतरिक्ष यान लूना-25 में आई खराबी

0
1068

इंटरनेशनल डेस्क: रूसी (Russia) अंतरिक्ष यान लूना-25 (Luna-25) ने चंद्रमा (moon mission)पर लैंड होने से पहले अचानक खराबी का सामना किया है। रूस की राष्ट्रीय अंतरिक्ष एजेंसी रोस्कोस्मोस ने इसकी जानकारी देते हुए बताया कि लूना-25 ने प्री-लैंडिंग ऑर्बिट में ट्रांसफर होने की प्रक्रिया के दौरान असामान्य स्थिति का सामना किया है। इसके परिणामस्वरूप, अंतरिक्षयान को मनुवर करने की अनुमति नहीं दी गई है।

लूना-25 का लक्ष्य सोमवार को चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव पर उतरना है। हालांकि, अब तक यह पता नहीं चल पाया है कि क्या इस खराबी का असर उसकी लैंडिंग प्रक्रिया पर होगा या नहीं। वैश्विक महाशक्तियों के बीच इस मुद्दे पर हो रही है होड़ का हिस्सा बन गया है, क्योंकि इससे चंद्रमा के एक हिस्से के पानी और कीमती तत्वों की मौजूदगी का पता लगाने की संभावना है।

रोस्कोस्मोस ने शनिवार को छोटे से बयान में बताया कि आपरेशन के दौरान एक असामान्य स्थिति उत्पन्न हुई, जिसके चलते लूना-25 को निर्दिष्ट मानकों के साथ मनुवर करने की अनुमति नहीं दी गई। एजेंसी ने यह स्पष्ट किया कि विशेषज्ञ वर्तमान में घटित हालातों की विश्लेषण कर रहे हैं।

लूना-25 का लॉन्च 1976 के बाद पहला रूसी अंतरिक्ष यान है जो चंद्रमा पर जाएगा। रूस ने 47 साल पहले भी चंद्रमा पर लैंड करने का प्रयास किया था, लेकिन तब कुछ समस्याएं आई थीं।

लूना-25 का उद्देश्य चंद्रमा की सतह पर पानी और कीमती तत्वों की खोज करना है। इसके अलावा, यह सतीक लैंडिंग टेक्नोलॉजी का प्रदर्शन करेगा और अपने साथ रूसी वैज्ञानिक उपकरणों का पैकेज भी लेकर जाएगा।

लूना-25 के बाद चंद्रयान-3 और जापान की अंतरिक्ष एजेंसी JAXA का तीसरा मून लैंडर भी चंद्रमा पर उतरने के लिए तैयारी में हैं। इन मिशनों का मुख्य उद्देश्य चंद्रमा की सतह पर विभिन्न तत्वों की खोज और अध्ययन है।

(आप हमें फ़ेसबुकइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here