सुप्रीम कोर्ट की हुई वेश्यालय से तुलना

0
626

नेशनल डेस्क: Supreme Court comapared to brothel: सुप्रीम कोर्ट में शुक्रवार को एक वकील ने एक आपत्तिजनक वीडियो के संबंध में चर्चा की। उस वीडियो में सुप्रीम कोर्ट को लेकर कुछ अनर्गल बातें कही गई थीं। वकील ने सीजेआई के सामने कहा, “मेरी अंतरात्मा इसका समर्थन नहीं कर रही है। एक वीडियो है, जिसमे मणिपुर मामले के बाद जजों को दोगला कहा गया। सुप्रीम कोर्ट की तुलना वेश्यालय से की गई है।”

सीजेआई चंद्रचूड़ ने वकील को जवाब दिया, “चिंता मत करो, इससे कोई फर्क नहीं पड़ता। एक वीडियो प्रसारित हो रहा है। हम उसे देख लेंगे।” सोशल मीडिया पर सुप्रीम कोर्ट और जजों को लेकर कई बार आपत्तिजनक टिप्पणियां की जाती रही हैं।

विपक्षी दल ने कुछ महीने पहले राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू से शिकायत की थी जिसमें सीजेआई चंद्रचूड़ की ऑनलाइन ट्रोलिंग का मुद्दा उठाया गया था। मार्च महीने में 13 विपक्षी दलों के नेताओं ने राष्ट्रपति को पत्र भेजकर भारत के मुख्य न्यायाधीश डी वाई चंद्रचूड़ की ऑनलाइन ट्रोलिंग के खिलाफ तत्काल कार्रवाई की मांग की थी।

पत्र में उन्होंने कहा था, “हम सभी जानते हैं कि भारत के माननीय मुख्य न्यायाधीश डी वाई चंद्रचूड़ की अध्यक्षता वाली सर्वोच्च न्यायालय की संवैधानिक पीठ महाराष्ट्र में सरकार गठन और राज्यपाल की भूमिका के मामले में एक महत्वपूर्ण संवैधानिक मुद्दे पर सुनवाई कर रही है। जबकि मामला अदालत में विचाराधीन है, ट्रोल आर्मी ने भारत के माननीय मुख्य न्यायाधीश के खिलाफ आक्रामक अभियान शुरू कर दिया है। शब्द और सामग्री गंदे और निंदनीय हैं, जिसे सोशल मीडिया प्लेटफ़ॉर्म पर लाखों में देखा गया है।”

(आप हमें फ़ेसबुकइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here