PM Narendra Modi In ISRO: जिस जगह विक्रम लैंडर उतरा उसे कहा जाएगा ‘शिव शक्ति’ पॉइंट

0
377

नई दिल्ली: देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) इसरो (Isro) के वैज्ञानिकों से मिलने के लिए बेंगलुरु पहुंचे हैं। उन्होंने अपनी दो देशों की यात्रा के बाद सीधे ग्रीस से बेंगलुरु की यात्रा की है। बेंगलुरु में प्रधानमंत्री मोदी के आगमन का उत्सवी आयोजन किया गया है। उन्होंने इसरो के कमांड सेंटर पर पहुंचकर चंद्रयान-3 (Chandrayaan-3) मिशन की सफलता के पीछे योगदान देने वाले वैज्ञानिकों से मुलाकात की। प्रधानमंत्री मोदी ने इस अवसर पर इसरो के प्रमुख की पीठ पर धपकी और चंद्रयान-3 मिशन के सफल होने पर उन्हें बधाई दी। इस दौरान उन्होंने सभी वैज्ञानिकों के साथ एक ग्रुप फोटो भी खिचवाई। प्रधानमंत्री ने घोषणा करते हुए कहा, ‘मेरे परिवारजनों, आप जानते हैं कि स्पेस मिशन के टचडाउन प्वाइंट को एक नाम देना एक वैज्ञानिक परंपरा है। चंद्रमा पर हमारे उतरने के स्थान को भारत ने नाम दिया है। चंद्रयान 3 मिशन में जहाँ हमने उतरने की प्रक्रिया पूरी की है, वहाँ पर अब “शिव शक्ति” (Shiv Shakti Point) नाम से जाना जाएगा”

प्रधानमंत्री मोदी ने इसरो के वैज्ञानिकों को संबोधित करते हुए कहा कि भारत में आकर जल्द से जल्द उनसे मिलने की इच्छा थी। उन्होंने सभी को सलाम किया और कहा कि उनके मेहनती काम, सहनशीलता, आत्म-संयम और उत्साह देश को उन्नति की ओर ले जा रहे हैं। यह वह भारत है जो नए दिशानिर्देशों की ओर बढ़ रहा है, जो नए और नूतन दृष्टिकोण से सोच रहा है, और जिसमें कठिनाइयों को चुनौती देने का साहस है। भारत की उपलब्धियों के पीछे यही आदर्श है।

उन्होंने कहा कि चंद्रयान-3 मिशन के जरिए, भारत ने चंद्रमा की सतह का परीक्षण किया है और उसकी तस्वीरें दुनिया के सामने पेश की हैं। इससे भारत की टेक्नोलॉजी ने विश्वभर में अपनी पहचान बनाई है। उन्होंने उन सभी वैज्ञानिकों की मेहनत की प्रशंसा की जिन्होंने इस सफलता को मुमकिन बनाया है। वे आगे बढ़कर दुनिया के लिए नए मून मिशन के द्वार खोलेंगे, जो अंतरिक्ष के रहस्यों की खोज करेंगे और धरती की समस्याओं का समाधान ढूंढेंगे।

प्रधानमंत्री मोदी ने सुबह 6 बजे एयरपोर्ट पर पहुंचकर लोगों को संबोधित किया। उन्होंने “जय जवान, जय किसान, जय विज्ञान, जय अनुसंधान” का नारा दिया और उन्होंने यह बताया कि उन्होंने देश के वैज्ञानिकों के साथ डिजिटल तरीके से जुड़कर चंद्रयान-3 मिशन के सफलता का जश्न मनाया। उन्होंने उनका समर्थन किया और उनकी मेहनत की प्रशंसा की।

(आप हमें फ़ेसबुकइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here