पूर्व पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान को क्यों हुई जेल?

0
1610

इंटरनेशनल डेस्क: पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान को तोशाखाना यानी सरकारी खजाने मामले में दोषी ठहराया गया है। इस्लामाबाद की जिला और सत्र अदालत ने इमरान खान को तीन साल की जेल की सजा सुनाई है। इस सजा के खिलाफ इमरान खान को ऊपरी अदालतों में अपील करने का मौका है। तोशाखाना मामले में दोषी ठहराए जाने के बाद ट्रायल कोर्ट के जज ने पूर्व पीएम इमरान खान के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी कर दिया। इस आदेश के बाद इमरान खान को लाहौर के जमान पार्क स्थित घर से गिरफ्तार किया गया है। उन्हें लाहौर से इस्लामाबाद ले जाने की तैयारी की जा रही है। तीन साल की सजा होने के बाद इमरान खान 5 साल के लिए चुनाव लड़ने से अयोग्य भी हो जाएंगे।

इमरान खान के खिलाफ 2018 से 2022 तक प्रधानमंत्री पद के दौरान उनके सरकारी उपहारों को खरीदने और बेचने के लिए अपनी शक्ति का दुरुपयोग करने का आरोप लगाया गया था। इन उपहारों की कीमत 140 मिलियन डॉलर ($ 635,000) से अधिक थी। ट्रायल कोर्ट ने सुनवाई के बाद इमरान खान को संपत्ति छिपाने और सरकारी उपहार बेचने में दोषी ठहराया। हालांकि, इमरान खान के वकीलों ने ट्रायल कोर्ट के न्यायशीश पर पहले ही पक्षपात करने का आरोप लगाया था। इससे पाकिस्तान में एक बार फिर बवाल बढ़ने की आशंका जताई जा रही है।

पहले भी 9 मार्च को इस्लामाबाद हाईकोर्ट ने एक भ्रष्टाचार मामले में इमरान खान को गिरफ्तार किया था, जिसके कारण पूरे पाकिस्तान में उनके समर्थकों ने हिंसा किया था। इमरान खान के एक समर्थक ने कहा कि इस्लामाबाद की एक अदालत ने राजनीतिक मामले (तोशाखाना केस) में उन्हें तीन साल की सजा सुनाने का निर्णय बेहद निंदनीय है। कोई साक्ष्य नहीं है। यह बड़े पक्षपातपूर्ण निर्णय है। पाकिस्तान में अदालतें शक्तिशाली सेना के दबाव में काम कर रही हैं।

(आप हमें फ़ेसबुकइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here